Monday, 5 August 2013

class 8 hindi ch 10

Lesson 10, Hindi Basant (Vasant) Bhag 3

कामचोर


Class 8, NCERT Hindi Textbook Exercise Solutions

प्रश्न : कहानी में मोटे-मोटे किस काम के हैं ? किन के बारे में और क्यों कहा गया ?
उत्तर: 'कहानी में मोटे-मोटे किस काम के हैं ?' - इस पंक्ति में घर के मोटे-मोटे बच्चों के बारे में कहा गया है क्यों कि वे कामचोर थे यहाँ तक कि वे हिलकर पानी भी नहीं पीते थेसारा दिन घर में उधम मचाया करते थे।

प्रश्न : बच्चों के उधम मचाने के कारण घर कि क्या दुर्दशा हुई ?
उत्तर: बच्चों के उधम मचाने से घर कि सारी व्यवस्था ख़राब हो गई। मटके-सुराहियाँ इधर-उधर लुढक गए। घर के सारे वर्तन अस्त-व्यस्त हो गए। पशु-पक्षी इधर-उधर भागने लगे। घर में धुल, मिट्टी और कीचड़ का ढेर लग गया। मटर कि सब्जी बनने से पहले भेड़ें खा गए। मुर्गे-मुर्गियों के कारण कपड़े गंदे हो गए।

प्रश्न ३: 'या तो बच्चा राज कायम कर लो या मुझे ही रख लो।' अम्मा ये कब कहा और इसका परिणाम क्या हुआ ?
उत्तर: जब घर में नाको दम होने के कारण बच्चों को उधमबाजी में कोई कमी नहीं आई, यहाँ तक कि आगे-आगे भैंस भाग रही थी, पीछे-पीछे चारपाई पर बैठे चाचा तथा चारपाई की पाटी पकड़े बच्चे दौड़ रहे थे तब अम्मा ने यह निर्णय लिया।
इसका परिणाम यह हुआ की सब बच्चों को कतार में खड़ा करके हिदायत दी गई, - "अगर किसी बच्चे ने घर की किसी चीज़ को हाथ लगाया तो बस, रात का खाना बंद हो जायगा" और इस प्रकार बच्चे काम करने से बच गए।

प्रश्न ४: 'कामचोर' कहानी क्या संदेश देती है ?
उत्तर: यह एक हास्यप्रधान कहानी है। जिस में बालमनो विज्ञान की आधार बनाया गया है। यह कहानी संदेश देती है की बच्चों को उनके स्वभाव के अनुसार, उम्र और रूचि ध्यान में रखते हुए काम करना चाहिए। जिससे वे बचपन से ही रचनात्मक कार्यों में लगन तथा रूचि का परिचय दे सकें। उनके ऊपर बड़ों की जिम्मेदारी थोपना बचपन को कुचलना है। अतः बड़ों को चाहिए की समझदार बच्चा बनकर बच्चों के बीच रहें और उन्हें सही दिशा प्रदान करें।

प्रश्न ५: क्या बच्चों ने उचित निर्णय लिया कि अब चाहे कुछ भी हो जाए, हिलकर पानी भी नहीं पिएँगें ?
उत्तर: नहीं। बच्चों ने उचित निर्णय नहीं लिया। क्योंकि स्वयं हिलकर पानी पीने का निश्चय उन्हें और भी कामचोर बना देगा। उन्हें काम तो करना चाहिए पर समझदारी के साथ। बच्चों को घर-परिवार के काम धंधों को आपस में बाँट कर, बड़ों से समझ कर पुरा करना चाहिए। उन्हें अपने खाली समय का सदुपयोग करना चाहिए तथा रचनात्मक कार्यों में मन लगाते हुए परिवार-वालों का सहयोग करना चाहिए।

No comments:

Post a Comment

Breaking